Posts

Showing posts from 2015

किसने इन्हे यह अधिकार दिया ??

Image
दाऊद की हामी के बाद मुंबई में टाइगर ने गुप्त बैठक की। इसमें दाऊद का भाई अनीस इब्राहिम भी शामिल हुआ। बैठक में पूरे मुंबई में बम प्लांट करने को लेकर योजना तैयार की गई। इसके लिए बड़े पैमाने पर विस्फोटक और हथियार की जरूरत थी। इसे मुहैया कराने के लिए दाऊद ने पाकिस्तानी की खुफिया एजेंसी आइएसआइ को तैयार किया। दाऊद ने कस्टम के कुछ अधिकारियों की मदद से पाकिस्तान से समुद्र के रास्ते बड़े पैमाने पर आरडीएक्स, हैंड ग्रिनेड, एके 47 व 56 राइफलें मुंबई पहुंचाए। कहा जाता है कि आरडीएक्स की इतनी मात्रा थी कि यह पूरे मुंबई को तबाह कर सकता था।
अब देखिये याकूब मेमन ने इस खुनी खेल में क्या क्या किया ? याकूब ने ही उन्नीस लडको को इसके लिए खोजा और तैयार किया ..... विस्फोटक कहाँ कहाँ रखने हैं उसके लिए उन सबको तैयार उसी ने किया ......इनकी फ्लाइट का टिकट याकूब ने अपने एक दोस्त की ट्रेवल एजेंसी से बुक करवाया। इस पूरी योजना लाखों रुपये खर्च होने थे। इसलिए मेमन परिवार के एचएसबीसी स्थित तीन खाते में दुबई से करीब 65 हजार डॉलर भेजे गए। इन तीनों खातों को याकूब ही ऑपरेट करता था।
इन लडको को ट्रेनिंग के लिए पाकिस्तान भेजा …
Image
स्किल इंडिया का मिशन
'मेक इन इंडिया’ और ‘डिजिटल इंडिया’ के बाद नरेंद्र मोदी सरकार ने‘स्किल इंडिया’ मिशन की शुरुआत की है। इन तीनों योजनाओं को एक शृंखला की कड़ी माना गया है। यानी डिजिटल सेवाएं सुलभ होंगी तो आम लोग उनके उपयोग में कुशल होंगे और ऐसा हुआ तो मेक इन इंडिया का मकसद पूरा होगा।
लोग डिजिटल सेवाओं के उपयोग में कुशल हों, इसके लिए उनमें तकनीकी कामकाज में कुशल होना चाहिए। यही स्किल इंडिया मिशन का मकसद है।
इसकी शुरुआत करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जिस तरह चीन वैश्विक कारखाना बन गया है, वैसे ही भारत को दुनिया के ‘मानव संसाधन के केंद्र’ के रूप में उभरना चाहिए।
उन्होंने इसे ‘गरीबी के खिलाफ अभियान’ बताया। कहा कि बदलते समय की जरूरतों के मुताबिक कौशल का प्रशिक्षण दे कर हमने अपनी युवा आबादी को निखारा तो भारत दुनिया को 4 से 5 करोड़ सक्षम कर्मी उपलब्ध करा सकता है। प्रधानमंत्री का उद्देश्य प्रशंसनीय है।
इस दिशा में उन्होंने पहल की है, यह भी काबिल-ए-तारीफ है। उनके खास अंदाज के अनुरूप ही यह पहल भी बहुचर्चित ढंग से शुरू हुई।
चूंकि मेक इन इंडिया और डिजिटल इंडिया का आरंभ हुए अभी लंबा वक…

एक सुरक्षित देश में ही उसके निवासी और धार्मिक गतिविधिया सुरक्षित रह पाती है

लोकसभा चुनाव के दौरान मोदी जी का प्रत्येक भाषण सिर्फ देश के विकास से सम्बंधित था और एक विकसित भारत में ही हिंदुत्व सुरक्षित रह सकता है । ढक्कन टाईप के घंटा प्रजाति के हिन्दुओ को अपने दिमाग के कपाट खोल कर इस बात को गहराई से समझना चाहिए !
एक सुरक्षित देश में ही उसके निवासी और धार्मिक गतिविधिया सुरक्षित रह पाती है वरना जिसके अंदर ज़्यादा कट्टरता उबाल मार रही है वो तथाकथित कट्टर एक बार कश्मीर , बंगाल तथा पूर्वोत्तर भारत में जाकर जमीनी हालात के दर्शन कर ले । सारी कट्टरता एक पल में कपड़े गीले करते हुए बाहर निकल जायेगी !
अजी ये हिन्दू शेर और लक्खडबग्घे बात बात पर अल्टीमेटम देते हैं कि राम मंदिर नहीं बना तो सरकार गिरा देंगे, 370 नही हटी तो अगली बार सरकार नहीं बनेगी । मै कहता हूँ झोपडीवालो अगर राम मंदिर, 370 वगैरह इतना ही प्रमुख मुद्दा होता तो देश के 70% राज्यों में इसी मुद्दों पर सरकारें बनती, और देश की सभी राजनीतिक पार्टियों का ये प्रमुख मुद्दा होता । रही बात कि अगर मोदी ने तुम्हारे  मुताबिक काम नहीं किया तो अगली बार मोदी को वोट नहीं दोगे, तो मत देना वोट । 2002 में तुमने यूपी में भाजपा का साथ…

आदरणीय प्रधानमन्त्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की विदेश यात्रा

आदरणीय प्रधानमन्त्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की विदेश यात्रा ने भारत ना जाने कितने विषय पर विदेश नीती पर मजबूत किया है और आर्थिक और वैश्विक स्तर पर एक अलग मक़ाम दिया है। नरेंद्र मोदी जी भी राजनीति में कोई नौसिखिए तो हैं नहीं! गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में उन्होंने देश के अन्य सभी राज्यों की तुलना में न जाने कितनी अधिक उपलब्धियाँ हासिल की हैं। विदेश यात्राओ से हुई कुछ उपलब्धियां इस प्रकार हैं –
1. भाजपा की सरकार ने सऊदी अरब को इस बात के लिये राज़ी किया कि वे क्रूड ऑइल पर “ऑन-टाइम डिलीवरी प्रीमियम चार्ज” न लें – युवा पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान और सुषमा स्वराज ने डील साइन की। इससे देश को हज़ारों करोड़ रुपयों का लाभ हुआ।
2. भूटान में भारत 4 हाइड्रोइलेक्ट्रिक पावर स्टेशन + बाँध के निर्माण करेगा (इन प्रोजेक्ट से भविष्य में होने वाले उत्पादन का बड़ा हिस्सा भारत के हिस्से में आएगा)
3. नेपाल में अबतक के सबसे बड़े बाँध का निर्माण भारत करेगा (चीन इस कार्य को प्राप्त करने के लिये अत्यधिक प्रयास कर रहा था)। भविष्य में उस हाइड्रो पावर स्टेशन से उत्पादित ग्रीन एनर्जी का 83% भाग भा…

नेपाल व प्राकृतिक आपदाएं

उत्तर प्रदेश और भ्रष्टाचार

जेवर उच्च शिक्षा

उत्तर प्रदेश और शिक्षा

शिक्षा स्तर में सभी राज्यो के मुकाबले में उत्तर प्रदेश शिक्षा का स्तर काफी निम्न है | अगर हम उत्तर प्रदेश में शिक्षा स्तर की बात करे तो महिलाए तथा बालिका आकलन 100% में से 30% है तथा पुरुषों तथा बालो में शिक्षा स्तर 100% में से 45% है | जिसमे की बाकि अशिक्षित लोग मजदूरी तथा खेती में कार्यरत है जिस्से राज्य में बेरोजगारी बढती जा रही है और 60% से ज्यादा लोग बेरोजगारी के शिकार है | इस बात का श्रय कही न कही उत्तर प्रदेश की सरकार को भी जाता है जिस्के यहा इतने अशिक्षित लोग है क्योकि ज्यादातर विधालय तथा स्कूल गाँवो से 5 से 10 मील की दूरी पर है |

सरकार को विधालय तथा स्कूलों पर ध्यान देना चाहिए और सभी स्थानों पर विध्यालय खुलवाने चाहिए तथा लोगो को शिक्षा की और जागरूक करना चाहिए जिस्से वे अधिक जागरूक , शिक्षित तथा रोज्गारित्त बने |

उत्तर प्रदेश में शिक्षा में अव्यवस्था के कई कारण है जैसे :
शिक्षको की भर्ती न होना इससे विध्यालयों में शिक्षको का पद रिक्त रह जाता है और शिक्षको की कमी हो जाती है | कक्षाओ में बठने हेतु सीटे उपलब्ध नही होती जिस्से विध्यार्थियों को घर लोट जाना पड़ता है | अव्यवस्थित…

उत्तर प्रदेश और किसान

उत्तर प्रदे‌श राज्य के विकास मे हमने पाया है कि अब तक उत्तर प्रदेश में ज्यादा विकास नही हो पाया है| जैसे: कृषि,शिक्षा,उधोग आदि क्षैत्र में | यह राज्य कृषि उत्पादन मे भारत मे सर्व श्रेठ है | यहाँ की भूमि बहुँत उपजाऊ है जिससे हमे बहुँत फसल प्राप्त होती है जैसे गैहू, धान ,सरसो ,दाले आदि | जिनहे हम विदेश में निर्यात करे तो अच्छा धन कमा सकते हैं पर इस राज्य में शासन करने वाले इसे कम कीमत पर खरीद कर अच्छी कीमत पर बेच देते है | लाभ राशि यहाँ के लोग नही बल्कि यहाँ की भ्रष्ट सरकार की साहयता से पूंजीपति उठा लेते है जिस्से किसान अच्छी कीमत नही कमा पाते है और किसान आर्थिक रूप से ग्रस्त होते जा रहे है उत्तर प्रदेश की इन सभी कमियो को मध्यनजर रखते हुए भारतीय जनता पार्टी विकास के लिए कुछ जरूरी कदम उठाएगी |   1. सभी किसानो के लिए कृषि धन योजना खाते खोले जाएँगे | जिससे वह गन्ना अदि फसल का भुगतान अपने खाते में पा सकते है |   2. किसानो के लिए लोन की सुविधा कम दर पर रखी जाएंगी | जिस्से वह ज्यादा समय में आसानी से चुका सके  3. फसल के बारे मे शिक्षा प्रदान करने के लिए कृषि विशेषज्ञयो को भेजा जाय …
BJP IdeologueIdeologue and Teacher

Pandit Deendayal Upadhyaya (1916-1968)
Pandit Deendayal Upadhyaya was the leader of the Bharatiya Jana Sangh from 1953 to 1968. A profound philosopher, committed organization man and a leader who who maintained the highest standards of personal integrity and dignity in public life, he has remained a source of ideological guidance and moral inspiration for the BJP since its inception. His treatise Integral Humanism is a critique of both communism and capitalism. It provides a holistic alternative perspective for political action and statecraft consistent with the needs of the human race and the sustainability of our natural hab itat.

A Short Biography
Pandit Deendayal Upadhyaya was born on September 25, 1916, in the sacred region of Brij – in the village of Nagla Chandraban in Mathura, in what is now Uttar Pradesh. An astrologer who studied his horoscope predicted that the boy would become a great scholar and thinker, a selfless worker, and a leading p…